सुप्रीम कोर्ट की तौहीन: कॉमेडियन कुणाल कामरा ने सोशल मीडिया पर अटॉर्नी जनरल के नाम लिखा खुला खत- न माफी मांगूंगा न जुर्माना भरूंगा

By | 13th November 2020


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

20 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

सुप्रीम कोर्ट के बारे में विवादित ट्वीट करने वाले कॉमेडियन कुणाल कामरा ने इस आग को और हवा दे दी है। कुणाल ने अपने खिलाफ अवमानना का केस शुरू करने की मंजूरी देने वाले अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल के नाम से यह खत सोशल मीडिया पर शेयर किया है। इसे शेयर करते हुए कुणाल ने लिखा- कोई वकील नहीं, कोई माफी नहीं, कोई जुर्माना नहीं, कोई जगह की बर्बादी नहीं।

खत में फिर उड़ाया मजाक
कुणाल ने लिखा है- डियर जजेस, मिस्टर केके वेणुगोपाल, मैंने हाल ही में जो ट्वीट किए उन्‍हें कोर्ट की अवमानना बताया गया है। मैंने जो भी ट्वीट किए वे सुप्रीम कोर्ट के एक प्राइम टाइम लाउडस्पीकर के फेवर में दिए गए पक्षपाती फैसले के खिलाफ मेरा अपना नजरिया था। मुझे अदालत लगाने में बड़ा मजा आता है और अच्‍छी ऑडियंस पसंद आती है। सुप्रीम कोर्ट के जजों और देश के टॉप लॉ ऑफिसर जैसी ऑडियंस शायद सबसे वीआईपी हो। लेकिन मुझे रियलाइज हुआ है कि मैं किसी भी जगह परफॉर्म करूं, सुप्रीम कोर्ट के सामने वक्‍त मिल पाना रेयर होगा।

मेरी राय नहीं बदली है क्‍योंकि दूसरों की निजी स्‍वतंत्रता पर सुप्रीम कोर्ट की चुप्‍पी बिना आलोचना के नहीं गुजर सकती। मैं अपने ट्वीट्स वापस या उनके लिए माफी मांगने वाला नहीं हूं। मुझे लगता है कि वे यह अपने लिए ही बोलते हैं। मैं अपनी अवमानना याचिका की तरह ही उन लोगों की सुनवाई के लिए समय मिलने की उम्‍मीद रखता हूं, जो मेरी तरह लकी नहीं हैं। क्‍या मैं यह बता सकता हूं कि नोटबंदी से जुड़ी, J&K के विशेष दर्जे को रद्द करने वाले फैसले के खिलाफ, इलेक्‍टोरल बॉन्‍ड्स की कानूनी वैधता को चुनौती देने वाली याचिकाओं और कई दूसरे मामलों को सुनवाई की ज्‍यादा जरूरत है। सीनियर एडवोकेट हरीश साल्‍वे जी अगर ज्‍यादा महत्‍वपूर्ण मामलों को मेरा वक्‍त मिलेगा तो क्‍या आसमान फट पड़ेगा?”

सुप्रीम कोर्ट ने अभी तक मेरे ट्वीट्स को लेकर कुछ भी डिक्लेयर नहीं किया है। लेकिन वे जब भी ऐसा करें तो मैं उम्‍मीद कर सकता हूं कि अवमानना घोषित करने से पहले वे थोड़ा हंसेंगे। अपने एक ट्वीट में मैंने सुप्रीम कोर्ट में महात्‍मा गांधी की जगह हरीश साल्‍वे की फोटो लगाने को कहा था। अब मैं कहूंगा कि पंडित नेहरू की फोटो हटाकर महेश जेठमलानी की फोटो लगा दी जाए।

अर्णब से पुराना बैर है कुणाल का
रिपब्लिक टीवी के एडिटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी को सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को जमानत दी थी। कुणाल ने इस पर ट्विट्स किए थे। पुणे के वकील रिजवान सिद्दीकी ने इसे सुप्रीम कोर्ट की अवमानना बताते हुए कामरा पर कार्रवाई की मांग की थी। इससे पहले कुणाल कामरा ने इंडिगो की मुंबई से दिल्ली आ रही फ्लाइट में रिपब्लिक टीवी के एडिटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी को ‘कायर’ कहकर भड़काने का प्रयास किया था। हंगामे पर संज्ञान लेते हुए इंडिगो समेत कई फ्लाइट्स ने उन पर 6 महीने की पाबंदी लगाई थी। अर्नब के जन्मदिन पर भी कुणाल, फिल्म निर्माता अनुराग कश्यप के साथ उन्हें चप्पल गिफ्ट करने पहुंचे थे। इसको लेकर सोशल मीडिया में खूब चर्चा हुई थी।



Source by [author_name]

0Shares