बयान से पलटे एक्टर:मीटू का कारण महिलाओं का काम करना बताने वाले मुकेश खन्ना ने दी सफाई- ‘मेरी बात को गलत तरीके से पेश किया गया’

By | 3rd November 2020


किरण जैन13 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

पिछले दिनों एक्टर मुकेश खन्ना का एक बयान सामने आया था जिसमें उन्होंने कहा था कि सेक्सुअल हैरसमेंट के मामले इसलिए सामने आने लगे हैं क्योंकि महिलाएं बाहर निकलकर काम करने लगी हैं। अभिनेता के इस बयान की काफी आलोचना की गई थी। हालांकि अब उनका कहना है कि उनकी बातों को लोगों ने गलत तरीके से लिया हैं। हाल ही में दैनिक भास्कर से बातचीत के दौरान, मुकेश खन्ना ने अपना बचाव किया और कहा कि वे औरतों की इज्जत करते हैं और उनके काम करने के खिलाफ बिलकुल नहीं हैं। बातचीत के दौरान उन्होंने ‘बिग बॉस’ शो को भी वाहियात बताया।

मेरी बात को गलत तरीके से पेश किया गया

ये कहना कि मैं औरतों का इज्जत नहीं करता, ये एक घिनौना इलजाम मुझ पर लगाया गया है। लोगों ने मेरी बात को गलत तरीके से पेश किया और मेरे खिलाफ विवाद खड़ा किया। मैं 40 साल से इस इंडस्ट्री से जुड़ा हुआ हूं, मैंने कई बड़ी-बड़ी औरतों के साथ काम किया है। आज हमारे हिंदुस्तान में औरतें कहां-कहां पहुंच गई हैं। सब जगह औरतों ने अपना परचम लहराया है। मैं कैसे कह सकता हूं कि औरतों को काम नहीं करना चाहिए।

अपनी पोस्ट में मैंने सिर्फ कहा था कि आज के जमाने में औरत और मर्द दोनों काम करते हैं जिसकी वजह से घर पर बच्चे का ध्यान रखने वाला कोई नहीं होता। मेरा मतलब कहीं पर भी औरतों के काम करने के खिलाफ बोलना नहीं था। मैं सिर्फ समझा रहा था कि आज की स्थिति कितनी बदल गई है। मैं शक्तिमान से किल्विष नहीं बन गया जैसे लोग मुझ पर आरोप लगा रहे हैं। मुझे उन बातों के लिए आलोचना का सामना करना पड़ा जो कभी मैं सोच भी नहीं सकता। मेरी बातों को तोड़-मरोड़कर रखा गया। मैं औरतों की बहुत इज्जत करता हूं और हमेशा करता रहूंगा।

‘बिग बॉस’ तो ‘द कपिल शर्मा शो’ से भी वाहियात शो है

मुझे कई बार ‘बिग बॉस’ के लिए भी ऑफर आए हैं लेकिन मैंने हर बार ऑफर ठुकरा दिया। मैं अपनी जिंदगी के 3 महीने इस तरह के शो को कभी नहीं दूंगा। ‘बिग बॉस’ तो ‘द कपिल शर्मा शो’ से भी वाहियात शो है। ना जाने लोग कैसे उस शो को देखते हैं। मैं उस शो के सख्त खिलाफ हूं, वो हमारी संस्कृति के खिलाफ है। जब-जब ऑफर हुआ तब-तब मैंने एक ही बात कहीं, आज तक मैंने कभी अपना बिस्तर किसी के साथ शेयर नहीं किया, शो में करने का तो सवाल ही नहीं उठता।

कोई देवता के नाम के सामने बम कैसे लिख सकता हैं?

काफी खुशी हुई अक्षय कुमार की फिल्म ‘लक्ष्मी बम’ का नाम ‘लक्ष्मी’ हुआ तो। कोई हमारे देवी देवताओं के नाम से खेले, ये मुझे बिलकुल सहन नहीं होगा, मेरा तो खून खौलता है। कोई देवता के नाम के सामने बम कैसे लिख सकता है? कई फिल्म मेकर्स हिन्दू धर्म को सॉफ्ट टारगेट बनाते हैं। हिन्दुओं को सॉफ्ट टारगेट बनाते हैं। खुशी है कि फिल्म के मेकर्स को भी समझ आ गया है कि हमारे देश के लोग अब पहले जैसे नहीं हैं। उनकी आवाज में बहुत ताकत है। सोशल मीडिया बहुत पावरफुल है। अक्षय कुमार इन दिनों ‘नेशनलिस्ट’ के तौर पर जाने जा रहे हैं। वो देश से जुड़ी कहानियों पर फिल्म करते हैं। मुझे उम्मीद है कि वो देश के लोगों से पंगे नहीं लेना चाहेंगे और इसीलिए उसने भी तुरंत फिल्म का टाइटल बदलने में इंटरेस्ट दिखाया।

मुकेश खन्ना के नाम के अभिनेता को पब्लिसिटी की क्या जरूरत?

मेरे को-स्टार्स ने मुझ पर पब्लिसिटी बटोरने का इलजाम लगाया। उनका मानना है कि मैं पब्लिसिटी के लिए सोशल मीडिया पर एक्टिव हूं। मुझे समझ नहीं आ रहा कि मुकेश खन्ना के नाम के अभिनेता को पब्लिसिटी की क्या जरूरत? मेरे पास पैसा भले ही ना हो लेकिन करोड़ों लोग मुझे पहचानते हैं। एकता कपूर या करण जौहर के नाम से अपने आपको लाइमलाइट में क्यों रखूं? एकता ने महाभारत को गलत तरीके से पेश किया इसीलिए मैंने आवाज उठाई थी। मुझे किसी से डर नहीं है और ना काम खोने का डर है।

अक्षय कुमार के पिता का रोल ऑफर हुआ हालांकि मैंने इंकार कर दिया:

हाल ही में मुझे एक एड में अक्षय कुमार के पिता का रोल ऑफर हुआ हालांकि मैंने इंकार कर दिया। मैं ऐसे एड नहीं करता जिसमे सिर्फ किसी एक्टर के पीछे खड़ा होना हो। अक्षय कुमार अपने आप में बड़े एक्टर हैं हालांकि मैंने उनके साथ काम करने के लिए साफ इंकार कर दिया।

जल्द लेकर आएंगे शक्तिमान का दूसरा सीजन

शक्तिमान 2 की तैयारी शुरू हो गई हैं। उस शो की बहुत बड़ी फैन फॉलोविंग है। मुझे पिछले कई सालों लोग पूछते हैं कि आप शक्तिमान फिर से कब ला रहे हो? इन फैंस के लिए मैं शक्तिमान का सीजन 2 जरूर लाऊंगा। लोगों को बहुत उम्मीद है मुझसे और मैं उनकी उम्मीदों पर जरूर खरा उतरूंगा। मेरे पास बहुत कुछ है लोगों को बताने के लिए लेकिन मैं इसे एक फिल्म की तरह पेश करूंगा। फिलहाल इस पर बातचीत चल रही हैं।



Source by [author_name]

0Shares