आश्रम 2 विवाद: वेबसीरीज ‘आश्रम चैप्टर 2’ को रोकने की धमकी देने वाली करणी सेना नहीं, प्रोड्यूसर सुरजीत सिंह ने किया खुलासा

By | 6th November 2020


40 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

दो दिन पहले करणी सेना की महाराष्ट्र शाखा के प्रदेश संगठन मंत्री सुरजीत सिंह की ओर से प्रकाश झा को भेजा गया नोटिस सुर्खियों में है। अब इस मामले पर प्रकाश झा का भी बयान आ आ गया है कि सीरीज का फैसला दर्शक करेंगे। वहीं सुरजीत सिंह ने सोशल मीडिया के जरिए बताया है कि यह नोटिस उनकी तरफ से भेजा ही नहीं गया। वह पूरी तरह से फर्जी है।

प्रकाश झा ने कही थी ये बात
नोटिस की खबर सामने आते ही आश्रम के मेकर प्रकाश झा ने एक इंटरव्यू में कहा था कि- “मैं उनकी डिमांड पर जजमेंट देने वाला कौन होता हूं? पहले सीजन पर हमारे पास 40 करोड़ से ज्यादा व्यूज थे। मुझे लगता है कि दर्शक इस बात का फैसला करेंगे कि सीरीज से नकारात्मकता फैल रही है या सकारात्मकता।”

सुरजीत का खुलासा प्रकाश झा से बात हो गई
सुरजीत ने शुक्रवार रात किए ट्वीट में यह स्पष्ट कर दिया कि वह नोटिस उनकी ओर से नहीं भेजा गया है। इस मामले में सुरजीत और प्रकाश झा की बात हो गई है। हाईकोर्ट के एडवोकेट मेहबूब खान के लैटरपैड से भेजे गए इस नोटिस राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना से कोई लेना देना नहीं है।

नोटिस में यह लिखा था
कथित तौर पर सुरजीत की ओर से भेजे गए नोटिस में कहा गया था कि ‘आश्रम-चैप्टर 2 द डार्क साइड’ के ट्रेलर ने बडे़ पैमाने पर हिंदू धार्मिक भावनाओं को आहत किया है। साथ ही आने वाली पीढ़ियों के सामने हिंदू धर्म की निगेटिव इमेज रखी जा रही है। ट्रेलर में जो किरदार हैं वे किसी व्यक्ति विशेष को टारगेट नहीं कर रहे हैं, बल्कि प्राचीन परंपराओं, रिवाजों, हिंदू संस्कृति, आश्रम धर्म को लेकर गलत ढंग से बताया जा रहा है, जिससे लोग भ्रमित हो रहे हैं।

आश्रम 2 विवाद से जुड़ी ये खबरें भी आप पढ़ सकते हैं..

करणी सेना VS प्रकाश झा:’आश्रम 2′ विवाद पर प्रकाश झा ने साधा करणी सेना पर निशाना, बोले- सीरीज कैसी? इसका फैसला दर्शक करेंगे

आश्रम पर खतरा:करणी सेना के निशाने पर आए प्रकाश झा, वेबसीरीज आश्रम का ट्रेलर और पूरी सीरीज पर रोक लगाने भेजा नोटिस



Source by [author_name]

0Shares